Wednesday, October 26, 2011

भला इस दिन को कोई पढ़ता है क्या?

अक्सर सुनने में आता हे फला लड़का या लड़की फेल हो गया पर इसमे उनका क्या दोष है ?? भला 365 दिनों में भी कोई पढाई होती हे ? विश्वाश नही होता तो खुद हिशाब लगा लीजिये की पढ़ने के लिए समय कहा है ?
* साल में कुल =365 दिन
*साल में कुल =52 रविवार है आराम करने के लिए इसलिए पढाई नही
*अब बचे 313 दिन
गर्मी की छुट्टी लगभग 60 दिन भीषण गर्मी में पढाई करना बेहद मुशिकिल होता हे
*शेष बचे 253 दिन
*लगभग 6 घंटे रोज नीद मतलब साल भर में लगभग 120 दिन की नीद
*बचे 133 दिन
1 घंटा रोज खेलना खेलना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक अथार्त वर्षः में लगभग 10 दिन
*अब बचे कुल 123 दिन
2 घंटे रोज दैनिक कार्य के अर्थात वर्षः में 27 दिन
*अब कुल दिन बचे 96
1 घंटा रोज दोस्तों से बातचीत करना क्योकि मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है . अर्थात 10 दिन
अब बचे 86 दिन
वर्ष भर में इंतिहान आदि के 40 दिन
*अब बचे 46 दिन
वर्ष में तीज त्यौहार के 30 दिन
*अब बचे केवल 16 दिन
वर्ष भर में शादी ब्याह के 10 दिन
*अब बचे 6 दिन
साल भर में बीमारी सर्दी बुखार आदि के 5 दिन

*अब बचे सिर्फ 1 दिन
और उस दिन तो मेरा बर्थडे होता हे ..
भला इस दिन को कोई पढ़ता है क्या?





अब पंजीकृत करे इनके द्वारा :

RSSEmailTwitterFacebookSMS

No comments:

Post a Comment

Translate