Wednesday, April 20, 2011

मैंने रस्सी से लटकाया था..



एक पठान दुसरे पठान से : ओये यारा तुने जिस औरत को बचाया था न डूबने से.


दूसरा पठान : हाँ बचाया था क्यों क्या हुआ ?


पहला पठान : ओये वो फ़ासी से लटक के मर गयी.....


दूसरा पठान : ओये ये क्या बोल रहा हैं?
उसे तो सूखने के लिए मैंने रस्सी से लटकाया था..


अब पंजीकृत करे इनके द्वारा :

RSSEmailTwitterFacebookSMS

No comments:

Post a Comment

Translate