Tuesday, May 18, 2010

हुजूर! आप सीखकर क्या करेंगे?

मरीज (डाक्टर से) - ऐसी बीमारी को सहने से अच्छा तो मर जाना अच्छा है।
डाक्टर (मरीज से) - हम कोशिश तो कर रहे हैं।


बच्चा (पिता से) - एक मूछों वाला आदमी बाहर खड़ा है।
पिता (बच्चे से) - उसे कह दो हमें मूछों की जरूरत नहीं है, हमारी मूछें हैं।



जज (चोर से) - मालिक के होते हुए आपने चोरी कैसे की?
चोर (जज से) - हुजूर! आप सीखकर क्या करेंगे?



संता (बंता से) - मैं चाहता हूं कि मेरी पत्नी बुद्धिमान हो, सुंदर हो और मीठी बोलने वाली हो।
बंता (संता से) - लेकिन इतनी मंहगाई में तुम तीन पत्नियों का खर्च कैसे बर्दाश्त करोगे?


एक बार एक आदमी शंकर भगवान की तपस्या की
और शंकर भगवान प्रसन्न हो गए और बोले कोई बरदान माग ले
उस इन्सान ने बोला मेरे को गिटार दे दो प्रभु
शंकर भगवान बोले कुछ और मांग लो मैं गिटार नही दे सकता
उस व्यक्ति ने बोला क्यूँ ?शंकर भगवान बोले !
अगर मेरे पास गिटार होता तो मैं डमरू क्यूँ बजाता




Email Subscription | SMS Subscription 
Get free Email & SMS alert

No comments:

Post a Comment

Translate