Saturday, February 20, 2010

अबे! तेरी तो, हाथ मिला मैं भी तो गे हूँ........


संता - यार, तुने पूरे टोइलेट में पोट्टी क्यों कर दी?
बनता - मोबाइल Ki वजह से,
संता - वो कैसे ?
बनता - तुने वो ऐड नही देखी,
'वाल्क वैन यु टॉक'



संता को इलेक्ट्रिक चेयर पर बिठा कर मौत की सजा
सुने गयी
जल्लाद- आखरी ख्वाहिस क्या हैं?
संता मुझे डर लग रहा हैं
मेरा हाथ पकड ले....


किसान अनाज की बोरिया ले कर बैलगाड़ी से जा रहा था
संता ने रोक कर पूछा- क्या है?
किसान- साब गेहूँ...
संता- अबे! तेरी तो, हाथ मिला मैं भी तो गे हूँ........



आज दीदार, कल यार,  परसों प्यार, फिर इकरार,
और फिर-इंतजार,
फिर-तकरार,
फिर-दरार,
सारी मेहनत-बेकार,
आजकल हमारा यही हाल है सरकार



मेरी हर याद में तुम हो
मेरी हर याद में तुम हो
मेरी हर याद में तुम हो
मेरी हर याद में तुम हो
और
तुम हो
कुत्ते की दुम हो
पता नही कहा गुम हो


1 नियुज पेपर में छपा था की
50% लड़किया मुर्ख होती हैं!
इस पर लड़कियों ने खूब हंगामा किया
और
छपवाया -
50% लडकिया मुर्ख नही होती.

No comments:

Post a Comment

Translate