Tuesday, September 16, 2008

कंप्यूटर गजल






कल जब मिले थे .................
तो दिल मे हुवा एक साऊंड
और आज मिले है तो कहते है



यौर फाइल नॉट फाउन्ड.








जो मुदत से होता आया है

ओः रीपीट कर दूँगा.
तू न मिले तो अपनी



जिंदगी clt+alt+delect कर दूँगा.








शायद मेरे प्यार को



टेस्ट करना भूल गए.
दिल से ऐसा कट किया



की पेस्ट करना भूल गए.








लाखो होंगे निगाहों मे.
कभी मुझे भी पिक करो.
मेरे प्यार के आइकन पे
कभी तो डबल क्लिक करो.








रोज सुबह करते है हम
प्यार से उनको गुड मोर्निंग .
ओः ऐसे घुर के देखते है.
जैसे हो एरर और ०५ वार्निंग ॥








ऐसा भी नही है की
आए डोंट लाइक यौर फेश .
पर दिल के स्टोरेज मे
नो मोर डिस्क स्पेस।








घर से जब तुम निकले
पहिन के रेशमी गावुन
जाने कितने दिलो का हो गया
सर्वर सट डाउन।




कंप्यूटर की ग़ज़ल

1 comment:

  1. if ur not access ur gmail or yahoomail then try this address
    for open block site


    https://aniscartujo.com

    ReplyDelete

Translate