Wednesday, August 6, 2008

मुन्ना भाई और सर्किट के लतीफे


मुन्ना भाई : sarkit, बोले तो ये फोर्ड क्या है?

सर्किट : भाई, गाड़ी है.

मुन्ना भाई: तो फिर, यह ऑक्सफोर्ड क्या है?

सर्किट : बोले तो, सिंपल है भाई, ओक्स मने बैल, फोर्ड मने गाड़ी. ऑक्सफोर्ड बोले तो बैलगाडी.......




प्रोफ़ेसर
गाँधी जयंती के बारे में क्या जानते हो?
मुन्ना भाई
गाँधी बहुत जबरदस्त आदमी था, बाप.
माँ कसम, पर अपुन को यह नहीं मालूम के ये जयंती कौन है.



प्रिंसिपल
अगर कोई लड़का गर्ल्स हॉस्टल में गया तो फर्स्ट टाइम 100 रुपए का फाइन, सेकंड टाइम 200 रुपए फाइन और थर्ड टाइम 500 रुपये का फाइन लगेगा.
मुन्ना भाई मंथली पास का क्या लेगा मामू.




डॉक्टर : आपको मालूम है की सिगरेट एक तरह से धीमे ज़हर का काम करता है.

मुन्ना भाई : अरे मामू, अपुन को कौन सा जल्दी हैं ऊपर जाने की.

No comments:

Post a Comment

Translate