Wednesday, July 23, 2008

"जूते चप्पल ठीक करा लो"

दिल से आप का ख्याल जाता नही,
आप के सिवा कोई याद आता नही,
हसरत है की आप को रोज़ देखूं.....
पर कम्बक्त, वो बंदरवाला आप को रोज़ लता नही!



मजनू ने लैला से कहा,
हमको गले लगा लो!!

मजनू ने लैला से कहा,
हमको गले लगा लो!!

जब लैला का बाप नज़र आया तो कहा
"जूते चप्पल ठीक करा लो"



उनकी गलियों में गया तो
वोह फूल बरसाने लगे
जब उनकी मम्मी ने देखा
तो गमले भी साथ आने लगे
See it

No comments:

Post a Comment

Translate