Thursday, June 5, 2008

बाप तो बहुत हे, पर आप जैसा कोई नही.


एक लड़के ने अपने पिता के जन्मदिन पर एक कार्ड मे शायरी लिखकर उपहार दिया। शायरी यह थी :- फुल बहुत हे पर गुलाब जैसी कोहि नहि, बाप तो बहुत हे, पर आप जैसा कोई नही.





डॉक्टर:- ये सीरप 2 चम्मच सुबह,
2 दोपहर,
2 रात को,
3 दिन तक लेना है.

पठान:- अपना दवाई अपना पास रखो,
हमारा घर मे इतना चम्मच नही हैं.





टीचर. बच्चो वादा करो सिगरेट शराब नही पिओगे.
बच्चे:नही पिएंगे.
टीचर:लडकियो का पीछा नही करोगे
बच्चे:नही करंगे
टीचर:उन पर आवाजें नही कसो गे.
बच्चे: नही कसेंगे.
टीचर: अपनी ज़िंदगी वतन पर कुर्बान करोगे.
बच्चे: करेंगे,ऐसी जिंदगी का करना भी क्या हैं.

No comments:

Post a Comment

Translate