Wednesday, May 21, 2008

----::::एक दुखी बेसहारा आशिक:::::---

http://www.bewhimsical.com/Sassafras%20Lane%20Graphics/puffin%20lover.gif
----::::एक दुखी बेसहारा आशिक:::::---

दो पल की भी खुशी न मिली तो क्या हुआ
उमर भर गम के सहारे जी लेंगे..

क्या हुआ जो हमारी girlfriend नही,
हम आपकी girlfriend के सहारे जीलेंगे.


--::अर्ज़ क्या है:::--

बहार आने से पहले फिजा आ गई,
की बहार आने से पहले फिजा आ गई,
और फूल खिलने से पहले...
उन्हें बकरी खा गई..!


---:::अर्ज़ किया हैं:::---

हम भी आपके लिए ताजमहल बनायेंगे..
गौर कीजिये,
हम भी आपके लिए ताजमहल बनायेंगे..
1 कप ख़ुद और 1 कप आपको पिलायेंगे!
वाह ताज!

See it

No comments:

Post a Comment

Translate