Tuesday, December 25, 2007

सुबह जब आख खुलती हैं,

सुबह जब आख खुलती हैं,
तो लबो पे तेरा नाम होता हैं,
जब नीगोडी रात आती हैं,
तो पास में जाम होता हैं !

काश पंख होते मेरे तो में उडकर पास आपके चला आता,
कितने बेताब हैं आपके लिए, हाले दिल सुना आता !
हर पल एक अगन सी होती हैं तेरे प्यार की,
त्म्हे दिखा आता...........................................

1 comment:

Translate