Tuesday, November 27, 2007

मोहब्बत के बिना ज़िंदगी फिजूल है,

मोहब्बत के बिना ज़िंदगी फिजूल है,
पर महोब्बत के भी अपने उसूल है,
कहते है मिलती है मोहब्बत में बहुत उल्फ़ते,
पर आप हो महबूब तो सब कुबूल है

No comments:

Post a Comment

Translate