Wednesday, October 31, 2007

महात्मा गाँधी, अमिताभ बच्चन, और जवाहर लाल.

तीन महापुरुष एक साथ घूम रहे थे
जिनके नाम कुछ इस प्रकार हैं:
महात्मा गाँधी, अमिताभ बच्चन, और जवाहर लाल.
इन सबको संडास जाना था
और इन सबके पास एक रेडियो था.
इन लोगो ने एक-दूसरे से कहा की....
जब एक संडास जाएगा तो रेडियो मैं उसके लिये..
एक गाना चलाया जाएगा.......
अब सबसे पहले अमिताभ बच्चन गए..
और जब वो बाहर आये तो बहुत खुश थे.
बाकी दोनो ने उनसे उनकी खुशी का कारन पूछा
तो उन्होंने बताया की उनकी बरी में "आशीक बनाया अपने" गाना बजा और उन्होंने बड़े मेज़ से संडास कीया.................................................
अब दुसरे नम्बर पर जवाहर लाल संडास को जाते हैं .............................................................
और वो भी जब बाहर आये तो बहुत खुश थे.
बाकी दोनो ने भी उनसे उनकी खुशी का कारन पूछा
तो उन्होंने बताया की उनकी बरी में "भीगे होठ तेरे" गाना बजा और उन्होंने बड़े मेज़ से संडास कीया........................................................
अब गाँधी जी की बारी थी,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
वो भी संडास को गए.....................................
लेकीन जब वो संडास से वापस आये तो...............
बड़े गुस्से में थे.............................................
जब बाकी दोनो ने उनसे पूछा की वो इतने गुस्से में क्यों हैं.........................................................
तब उन्होंने गुस्से में बताया की मेरी बारी में........
राष्ट गान कीसने लगाया................................
हा हा हा हा हा हा हा हा हा अह आहा हा हा हा हा

No comments:

Post a Comment

Translate